Home ताज़ा खबर भाप को कोरोना वायरस को निष्क्रिय करने का कारगर उपचार माना

भाप को कोरोना वायरस को निष्क्रिय करने का कारगर उपचार माना

जनहित मे जारी

इस शोध और अपने अनुभव के आधार पर किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय (केजीएमयू) व संजय गांधी स्नातकोत्तर आयुर्विंज्ञान संस्थान (एसजीपीजीआइ) के विशेषज्ञों ने भाप को फेफड़ों का सैनिटाइजर करार दिया है।

विशेषज्ञों के अनुसार रोजाना दो से तीन बार पांच मिनट तक भाप लेने से वायरस मात खा सकता है।खांसी व बंद नाक में भी राहत

भाप के इस्तेमाल से खांसी, बंद नाक में भी राहत मिलती है। यह जमा बलगम को पिघला देती है। भाप श्वांस नलियों में रक्त के प्रवाह को बढ़ाकर रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करता है। साथ ही नाक व गले में जमा म्यूकस को पतला कर देता है। इससे सांस लेने में आसानी महसूस होती है। पर्याप्त आक्सीजन फेफड़ों तक पहुंचने से वह स्वस्थ रहते हैं।

ऐसे ले सकते हैं भाप: सादे पानी के साथ या उसमें विक्स, संतरे व नींबू के छिलके, लहसुन, टी ट्री आयल,अदरक,नीम की पत्तियां इत्यादि में से कुछ भी मिलाकर,क्योंकि यह एंटीमाइक्रोबियल होते हैं जो वायरस को कमजोर करने में मदद करते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

भारत देश मे मसीहा बन कार्य कर रहे समाज सेवी रिंकू रितेश चौरसिया

घरेलू थेरेपी बनाकर भारत देश के हजारों कोरोना मरीजों को स्वस्थ किया। संजय भारद्वाज छिंदवाड़ा छिंदवाड़ा...

तमिलनाडु: 3 रुपये सस्ता दूध, कोरोना मरीजों का मुफ्त इलाज, CM बनते ही स्टालिन के बड़े फैसले

विधानसभा चुनाव में प्रचंड जीत हासिल करने के बाद एमके स्टालिन ने राज्य के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली.अब कार्य भार...

मध्यप्रदेश कोरोना अपडेट शनिवार 08 मई 2021

भोपाल मध्यप्रदेश सम्पूर्ण मध्यप्रदेश का कोरोना अपडेट शनिवार 08 मई 2021 सम्पूर्ण मध्यप्रदेश का कोरोना अपडेट...

कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन करने वाले शख्स के विरुद्ध SDM ने की कार्यवाही

हनुमना- एक ओर जहां देश एव प्रदेश कोरोना महामारी के भयावह संकट से जूझ रहा है वही कुछ लोग शासन के दिशा...
All countries
158,347,281
Total confirmed cases
Updated on May 9, 2021 8:08 am

Recent Comments

Open chat
1
सहारा समाचार, आपके परेशानियों के साथ है,आप आवश्यकता पड़ने पर, हमारा सहयोग ले सकते है। धन्यवाद